BREAKING NEWS

अयोध्या विवाद LIVE: SC में सुनवाई टलने से वीएचपी निराश, कांग्रेस बोली- प्रक्रिया में वक्त लगता है

अयोध्या विवाद LIVE: SC में सुनवाई टलने से वीएचपी निराश, कांग्रेस बोली- प्रक्रिया में वक्त लगता है
10 Jan
1:01

सुप्रीम कोर्ट में आज भी राम मंदिर पर नियमित सुनवाई की तारीख तय नहीं हो सकी. अब 29 जनवरी को नई संवैधानिक पीठ तय करेगी राम मंदिर पर सुनवाई की तारीख. 5 जजों की संविधान पीठ में शामिल जस्टिस यू यू ललित के बेंच से हटने की वजह से आज की सुनवाई टल गई. चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा अब किसी और दिन बैठेंगे. जस्टिस यू यू ललित ने मुस्लिम पक्ष के वकील राजीव धवन की तरफ से सवाल उठाने के बाद राम मंदिर पर बनी संवैधानिक बेंच छोड़ी. इस वजह से टली राम मंदिर पर पहली तारीख
10 Jan 2019, 12:34 PM IST
अयोध्या में रामलला मंदिर के मुख्य पुजारी सत्येंद्र दास ने कहा, ”सुप्रीम कोर्ट में तारीख पर तारीख से निराशा हुई, आज हमें बहुत उम्मीद थी. सरकार से बहुत आशा थी लेकिन वहां से भी निराशा हुई. ऐसा लगता है कि रामलला का ‘वनवास’ से लौटना अनिश्चित है.”
10 Jan 2019, 12:29 PM IST
सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई टलने पर वीएचपी के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने कहा, ”जस्टिस ललित को इस बेंच से हटाया नहीं गया, उन्होंने खुद को अलग किया है. इसमें कोई मुसलमान जज होता तो हमें कोई नहीं है. लेकिन देश में धर्म के आधार पर जज की नियुक्ति की बात नहीं करनमी चाहिए. आज जो 10 जनवरी के बाद 29 जनवरी की तारीख दी गई है उसने हमें निराश किया है.”
10 Jan 2019, 12:28 PM IST
केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा, ” देश के करोड़ों लोगों की मंशा है कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर बने, सुप्रीम कोर्ट को जल्द सुनवाई करनी चाहिए. न्याय पालिका स्वतंत्र है, हमें उनके अनुरोध करना चाहिए इस मामले में जल्द फैसला सुनाएं. प्रधानमंत्री ने जो राम मंदिर पर कहा है हम सब उनके साथ खड़े हैं.”
10 Jan 2019, 12:28 PM IST
कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी ने कहा, ”कोर्ट की प्रकिया में वक्त लगता है, इस पर बीजेपी से जुड़े संगठन उन्माद फैलाते हैं. मैं इस केस को बहुत पहले से जानता हूं, जब ये लखनऊ में चल रहा था. जस्टिस यूयू ललित उस वक्त कल्याण सिहं के वकील के तौर पर पेश हुए थे. आज उन्होंने सुप्रीम कोर्ट की परंपरा का पालन किया और खुद को केस से अलग कर लिया. कोर्ट अब 29 जनवरी को बैठेगी तब तक सारे कागजात ऑर्डर में रखे जाएंगे, इसलिए ये भी जरूरी नहीं है कि उस दिन भी सुनवाई शुरू हो जाए.”
10 Jan 2019, 11:25 AM IST
सुनवाई टलने की खबर आते ही सुप्रीम कोर्ट के बाहर कुछ लोगों ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया. इसके बाद दिल्ली पुलिस ने कुछ लोगों ने हिरासत में लिया है. जानकारी के मुताबिक राष्ट्रीय विचार मंच के बैनर चले करीब 100 लोगों ने प्रदर्शन किया. कई लोगों ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के लिए हिंदू आस्था का कोई मतलब नहीं है, हिंदू लगातार संविधान का पालन करते रहे लेकिन आज फिर एक बार नई तारीख दे दी गई.
10 Jan 2019, 11:27 AM IST
सुप्रीम कोर्ट में आज की कार्यवाही पर हिंदू पक्ष के वकील ने कहा- जानबूझ कर मामले को टालने की कोशिश हो रही है. हिंदू पक्षकार महंत धर्मदास ने कहा- सुप्रीम कोर्ट के जज पंच पर्मेश्वर हैं, लेकिन वो समझ ही नहीं रहे हैं किया कर रहे हैं. आज कोर्ट को तत्काल फैसला सुनाया चाहिए था. इतने दिन से सुनवाई चल रही है, ऐसा रहा तो पता नहीं कब फैसला आएगा.
10 Jan 2019, 11:03 AM IST
गवाहों के बयान 15 हज़ार पन्नों से ज़्यादा है, इसके साथ ही हाई कोर्ट का फैसला 4304 छपे पन्नों का है. वैसे कुल 8 हज़ार से ज़्यादा पन्नों का है, कोर्ट रूम कागज़ात से भरा है. 7 भाषाओं के दस्तावेजों का अनुवाद हुआ है. सुप्रीं कोर्ट रजिस्ट्री से सभी दस्तावेजों के आकलन करने को कहा है.
10 Jan 2019, 10:54 AM IST
जस्टिस यूयू ललित के खुद को संवैधानिक पीठ से अलग करने के बाद अब 29 जनवरी को नई बेंच बैठेगी. यानी आज 19 दिन बाद अयोध्या मामले पर सुनवाई की तारीख सामने आ सकती है.
10 Jan 2019, 10:55 AM IST

ANI

@ANI
Supreme Court fixes January 29 as the next date of hearing

ANI

@ANI
Hearing in #Ayodhya matter adjourned after Justice UU Lalit recused himself from hearing the case. A new bench to be constituted

View image on Twitter
225
10:52 AM – Jan 10, 2019
Twitter Ads info and privacy
236 people are talking about this
Twitter Ads info and privacy
10 Jan 2019, 10:51 AM IST
राजीव धवन ने तीन जजों में सुनवाई के पुराने आदेश को बदलने पर भी सवाल उठाए. चीफ जस्टिस ने कहा कि इस सुनवाई के लिए 5 जजों की बेंच की ज़रूरत समझी गई थी.
10 Jan 2019, 10:39 AM IST
सुनवाई के दौरान मुस्लिम पक्ष के वकील राजीव धवन ने जस्टिस यू यू ललित पर सवाल उठाए. राजीव धवन ने कहा- 1994 के करीब जस्टिस यू यू ललित कल्याण सिंह के लिए पेश हुए हैं. हमें उनकी सुनवाई पर एतराज़ नहीं, वो खुद तय करें. जस्टिस ललित ने कहा कि असलम भूरे केस में एक अर्जी के लिए में पेश हुए था. जज आपस में चर्चा कर रहे हैं.
10 Jan 2019, 10:46 AM IST
जस्टिस यू यू ललित ने खुद को संवैधानिक पीठ से खुद को अलग करने की बात कही. इसके साथ ही बड़ी खबर सामने आई है कि अब अयोध्या मामले पर सुनावई की तारीख किसी और दिन तय होगी.
10 Jan 2019, 10:44 AM IST
राजीव धवन ने जो सवाल उठाए उस पर चीफ जस्टिस ने कहा- देखना होगा कि क्या इससे केस के मेरिट पर कोई असर पड़ेगा. इस पर नहीं, हमें सुनवाई पर कोई आपत्ति नहीं है. राजीव ने फिर सवाल उठाया कि कि कोर्ट ने पहले 3 जजों की बेंच में सुनवाई की बात कही थी. इसे प्रशासनिक आदेश से बदला गया. आपको न्यायिक आदेश पास करना चाहिए. इस पर हरीश साल्वे ने कहा कि मुझे नहीं लगता इसकी ज़रूरत है. जब संवैधानिक सवाल हैं तो संविधान पीठ होगी.
10 Jan 2019, 10:36 AM IST
जज कोर्ट रूम में पहुंच चुके हैं, मुस्लिम पक्ष के वकील राजीव धवन सबसे पहले अपनी बात रखना चाहते हैं. चीफ जस्टिस की ओर से कहा गया है कि आज तारीख तय करनी है.
1

« »

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *